रेप मुक्त भारत करने और झूठे इल्जामों से मुक्ति दिलाने का संकल्प लेने वाली साइकिल टीम पहुँची जयपुर ।

बदलाव आने का इंतज़ार करने से बेहतर खुद वह बदलाव बनना, आज के समय में जरूरी हो गया है। ऐसी है सोच लिए यूथ अगेंस्ट रेप नामक एक संस्था ने हमारे समाज से रेप और रेप के झूठे इल्जाम लगा कर फसाने वालो को सख्त सजा दिलवाने के लिए एक मुहिम चलाई है। 17 अक्टूबर […]

बदलाव आने का इंतज़ार करने से बेहतर खुद वह बदलाव बनना, आज के समय में जरूरी हो गया है। ऐसी है सोच लिए यूथ अगेंस्ट रेप नामक एक संस्था ने हमारे समाज से रेप और रेप के झूठे इल्जाम लगा कर फसाने वालो को सख्त सजा दिलवाने के लिए एक मुहिम चलाई है।

17 अक्टूबर को दिल्ली के जंतर मंतर से हो कर 28 राज्यो के 450 जिलों और गावँ के सरकारी स्कूलों और कॉलेज में जागरूकता अभियान करते हुए पूरे देश मे 30,000 किमी की साइकिल यात्रा कर रेप मुक्त भारत का प्रचार करने वाली टीम युथ अगेंस्ट रेप के प्रेसिडेंट पीयूष मोंगा ( हिसार, हरियाणा निवासी ) व उनके साथी योगेश रावल ओर रुणछोड देवासी ( सिरोही राजस्थान निवासी) जयपुर तक पहुंच चुके है। अभी तक उनकी यात्रा के 450 किमी पूरे हो चुके है । इस मुहिम से वह यह भी साबित करेंगे कि हमारे देश की युवा पीड़ी अगर कोई संकल्प ले लेती है, तो वह हमारे समाज में बड़े से बड़ा बदलाव भी ला सकते है। इस टीम की खासियत यह है कि ये लोग अपनी पढ़ाई और नोकरी छोड़ कर, खाने ओर रहने की व्यवस्था के बारे में सोचे बिना देश सेवा करने निकले है । इस पूरी यात्रा में वह 30,000 किमी से अधिक का सफर तय कर विश्व रिकॉर्ड बनाएंगे । इसके साथ-साथ उनकी टीम अपने सफर के दौरान रास्ते मै पौधे भी लगाएंगे जो कि हमारे देश के इतिहास में 2 साल चलने वाला सबसे लंबा कैंपेन होगा । इसके इलावा यह टीम 2 साल में सबसे ज्यादा जागरूकता अभियान करके एक और विश्व रिकॉर्ड अपने नाम करेगी।

आज से तीन महीने पहले, 25 मई के दिन पीयूष मोंगा नाम के एक 22 साल के युवा ने “यूथ अगेंस्ट रेप” नामक एक मुहिम की शुरुआत की । इस मुहिम का मुख्य लक्ष्य देश के युवा पीड़ी को एकजुट कर समाज से बलात्कार जैसी बीमारी को समाप्त करना है। इस मुहिम की शुरुआत सोशल मीडिया के माध्यम से की गई थी। इंस्टाग्राम और टेलीग्राम के माध्यम से देश की युवा पीड़ी को एकजुट किया गया । इस मुहिम में पीयूष का साथ 15 से 25 साल के युवा दे रहे है , जो अपने देश को बलात्कार और बलात्कार के झूठे आरोप लगाकर मासूमों को फसाने वालो से आज़ाद करना चाहते है। इंस्टाग्राम और टेलीग्राम के माध्यम से देश भर के युवाओं को एक करके विभिन्न टीमों का सदस्य बनाया गया। यह टीमें हमारे देश के विभिन्न राज्यों , शहरों में मौजूद हमारे समाज को जागरूक करने का प्रयास कर रही है ।

यूथ अगेंस्ट रेप की टीम का मुख्य लक्ष्य बलात्कारी को फांसी की सजा दिलवाना है, क्योकि भारत के इतिहास में आज तक बलात्कारी को फांसी की सजा सुनाई तो गई पर फांसी दी नहीं गयी और जो महिलाएं बलात्कार के झूठे आरोप लगाकर मासूम ज़िंदगियों के साथ खिलवाड़ करती है, उन्हें 14 वर्ष की कारावास की सजा करवाना है। इसके अलावा हर राज्य में फोरेंसिक लैब बनवाना, महिलाओं को आत्म रक्षा की शिक्षा उपलब्ध करवाना है। इस मुहिम में यूथ अगेंस्ट रेप की टीमों ने कई विधालयो , कॉलेज और कई सामाजिक स्थानों पर जागरूकता अभियान किए हैं । इस संस्था ने ट्वीटर का भी उपयोग जागरूकता फैलाने के लिए किया है।
यह टीम और इसके सदस्य देश के हर राज्य , जिले ,गावँ , में जाकर वहां पर जागरूकता अभियान करेंगे व जिन केस पर सही तरह जांच नहीं की गई या जबरदस्ती बंद करवा दिए गए है उन मामलों की जांच करवाएंगे । अगर आप अपने शहर में साइकिल पर जाते हुए इन्हें देखते है तो इनके लिए खाने और रात्रि विश्राम करने का उचित प्रबंध कर इस अभियान को सफल करने में मदद करे और बलात्कार मुक्त भारत बनाने के संकल्प में भागीदारी निभाएं ।
जय हिन्द ।।यह टीम अभी जयपुर (राजस्थान) पहुंच चुकी है, और आने वाले 4 दिन तक शहर के मुख्य स्थानों पर शहरवासियों को जागरूक करने का कार्य करेगी,  इनका मुख्य कार्यक्रम 30 अक्टूबर को सेंट्रल पार्क में सुबह 7 बजे से 10 बजे तक होने वाला है , इच्छुक लोग इसे जुड़ सकते है ।
संपर्क करें – @y.a.r._jaipur

संपर्क सूत्र :-
फोन +917082257333
मेल Y.a.i.foundation2019@gmail.com
इंस्टाग्राम @youth_against_rape
वेबसाइट http://Yaifoundation.org

Facebook Comments

Search

What are you interested in? Explore some of the best tips from around the city from our partners and friends.